रायपुर। पूर्व मंत्री राजेश मूणत के गिरफ्तार होने के बाद प्रदेश में सियासी पारा हाई हो गया है. पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सहित भाजपा के कई बड़े नेता और कार्यकर्ता थाने पहुंचे। वहीं भाजपा पूर्व मंत्री से दुर्व्यवहार को लेकर टीआई पर कार्रवाई करने की मांग पर अड़ी हुई है. भाजपा की ओर से कार्रवाई के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया है. नहीं तो वह रायपुर बंद का आवाहन करेंगे। साथ ही रविवार को राज्यपाल को ज्ञापन दिया जाएगा। READ MORE: बड़ी खबर : राजेश मूणत का वीडियो आया सामने…. पुलिस पर मारपीट करने का लगाया आरोप… देखें VIDEO

 

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मीडिया से चर्चा करते हुए पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहां की पुलिस तथ्यों को छुपा रही है जो टेप दिखा रही है वो आधे टेप दिखा रही है. जो पुलिस के थाने के अंदर साक्ष्य है. उसको भी आधा बताया जा रहा है. जब तक सारे साक्ष्य सामने नहीं आएंगे। तब तक भाजपा का प्रदर्शन जारी रहेगा।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कांग्रेस बदले की राजनीति कर रही है और बदले के अनुसार कार्यकर्ता भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर जानबूझकर प्रताड़ित करने और उनको अरेस्ट करने का षड्यंत्र है. उन्होंने कहा कि हमारी एक ही मांग है कि जिस अधिकारी ने बदतमीजी की है उस टीआई के खिलाफ कार्यवाही की जाए.

रमन सिंह ने कहा, पुलिस प्रताड़ना और जिस प्रकार से पूर्व मंत्री,नेता और कार्यकर्ता के साथ पुलिस ने दुर्व्यवहार किया। सारी मर्यादाओं की सीमा लांग गई, इसके विरोध में आज भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता थाने के घेराव के लिए आए हुए हैं. आज अभी बैठकर यह निर्णय पार्टी के हमारे वरिष्ठ साथियों के साथ हुआ कि यह आंदोलन जारी रहेगा। यहां पर थाने के अंदर ही धरना हमारा चलता रहेगा। पुलिस चाहे तो हमको अरेस्ट कर ले जाए लेकिन धरना जारी रहेगा। जब तक पुलिस को जो हमने शिकायत की है उसके अनुसार उस टीआई के ऊपर कार्यवाही नहीं होगी तब तक यह धरना जारी रहेगा। READ MORE: BREAKING : पूर्व मंत्री राजेश मूणत गिरफ्त्तार, पुलिस से किया अभद्र भाषा का प्रयोग… देखें VIDEO

 

इसके साथ ही रमन सिंह ने कहा कल राज्यपाल से मिलकर उनको ज्ञापन दिया जाएगा। सभी वरिष्ठ जनों और कार्यकर्ताओं के साथ कार्यालय से जुलूस निकालकर राजभवन तक जाएंगे. और सोमवार रायपुर बंद का आवाहन किया जाएगा, यदि यह मांग 24 घंटे में पूरी नहीं होती है. तो रायपुर बंद के लिए भाजपा कार्यकर्ता निकलेंगे। मगर जो यहाँ धरना है वो जारी रहेगा। ये धरना तब-तक जारी रहेगा जब तक पुलिस अपने उस पुरे विषय पर कार्रवाई नहीं करती।

यहां से शुरू हुआ पूरा मामला

 

रायपुर में शनिवार को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रवास के दौरान बड़ा बवाल हो गया। उन्हें काले झंडे दिखाने जुटे कांग्रेस नेताओं की पहले भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं से झड़प हुई और फिर पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने पुलिसवालों से जमकर गाली-गलौज की। बाद में उन्हें हिरासत में भी ले लिया गया। वहीं गिरफ़्तारी के बाद विधानसभा थाने में राजेश मूणत पर हाथ उठाए जाने की खबर सुनकर भाजपा के कार्यकर्ता गुस्से में हैं और बड़ी संख्या में भाजपाई थाने में पहुंचे।

 

राजेश मूणत को विधानसभा थाने लाए जाने के बाद से ही बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता वहां जुट गए और नारेबाजी हंगामा शुरू कर दिया। जब मूणत के थाने के अंदर से दो वीडियो मोबाइल के जरिए वायरल हुए तो माहौल और बिगड़ गया। इस वीडियो में मूणत और उनके साथ हिरासत में लिए गए भाजपा कार्यकर्ता को अंदर पीटे जाने की बात कह रहे थे। दूसरा वीडियो बनाते समय तो किसी ने उनका मोबाइल छीन भी लिया।

 

उधर गिरफ्तारी की जानकारी मिलते ही भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल सहित कई बड़े नेता थाने पहुंच गए। बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जो बदतमीजी की है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हमने संबंधित अधिकारियों, लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखित शिकायत की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *