Reporting :- मेघा तिवारी

 

मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले आरोपी गिरफ्तार : शराब पीने से रोका, तो कर दी मंदिरों में तोड़फोड़, पुलिस ने दो आरोपी को किया गिरफ्तार देर रात प्रशासन ने मंदिरों में स्थापित कराई मूर्तियां

छत्तीसगढ़ : छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में गुरुवार सुबह असामाजिक तत्वों ने दो अलग-अलग स्थानों पर भगवान हनुमान के मंदिरों में तोड़फोड़ की घटना को अंजाम दिया है। मंदिर में लगे ध्वज व हनुमान की मूर्ति को तोड़कर फेंक दिया। इस घटना के बाद शहर में भारी आक्रोश है। भारतीय जनता युवा मोर्चा व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दिया। प्रदर्शन और नारेबाजी की सूचना पर पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई है। पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक व्यक्ति फरार है।

मिली जानकारी के अनुसार नवागढ़ क्षेत्र के मिसदा गांव और शिवरीनारायण के केरा में दो अलग-अलग हनुमान मंदिरों में तोड़फोड़ की गई है। अज्ञात असामाजिक तत्वों ने पहले मंदिर का ताला तोड़ा और भीतर जाकर मंदिर में स्थापित हनुमान जी की मूर्ति तोड़ दी। मंदिर में लगे धर्म ध्वज को भी निकाल कर फेंक दिया गया है। पुलिस ने खंडित मूर्ति को पास की ही नहर से बरामद किया है। घटना की खबर लगते ही आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई।

बताया जाता है कि एक बंदर की मौत के बाद इस मंदिर का निर्माण कराया गया है। इधर धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मामले में पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है। बिलासपुर आईजी रतनलाल डांगी ने बताया कि मंदिरों में तोड़फोड़ करने व मूर्तियों को नुकसान पहुंचाने वाले आरोपियों मनीष साहू (29 वर्ष) निवासी केसला थाना शिवरीनारायण, संजू पटेल (19 वर्ष) निवासी केसला, थाना-शिवरीनारायण को गिरफ्तार किया गया है। एक आरोपी कनस्दो निवासी राजेश यादव फरार है, जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम को लगाया गया है।

ग्राम पंचायत मिसदा के पंचायत प्रतिनिधि महेश्वर शुक्ला ने बताया कि मंदिर को पिछले साल ही गांव के युवाओं ने बनवाया था। यहां एक बंदर की मृत्यु हो गई थी। उसके बाद शव को दफन कर स्मारक स्वरूप मंदिर का निर्माण कराया गया है। मंदिर के धर्म ध्वजा व मूर्ति को नुकसान पहुंचा गया है, जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हुई है। मंदिर समिति व गांव के लोगों ने दोषियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *