भिलाई में सावन के हरेक सोमवार को भव्य पूजा: पावर हाउस स्थित राजराजेश्वरी मंदिर में होगी पूजा, पहले सोमवार को दया सिंह के साथ भाजपा पार्षद करेंगे शिव का महाभिषेक

– हर साल राजराजेश्वरी मंदिर में होता है भोले का महाभिषेक

– इस बार भी मंदिर में विशेष-पूजा अर्चना के लिए आएंगे अतिथि और राजनेता

भिलाई। सावन का पवित्र महीना आरंभ हो चुका है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार सावन का महीना साल का पांचवां महीना होता है। सावन का महीना भगवान शिव को समर्पित होता है। इस माह में भगवान शिव की विशेष रूप से पूजा-आराधना करने का विधान होता है। सावन का महीना भगवान भोले को सबसे ज्यादा प्रिय होता है।
हर साल की तरह इस बार भी सावन महीने में भिलाई में भव्य पूजा अर्चना होगी। भिलाई के पावर हाउस में राजराजेश्वरी मंदिर में इसकी तैयारी शुरू हो गई है। बोल बम सेवा एवं कल्याण समिति के अध्यक्ष व भाजपा पार्षद दया सिंह की मौजूदगी में विशेष पूजा-अर्चना की जाएगी। भाजपा पार्षद दया सिंह ने बताया कि, हर सोमवार को मंदिर में भव्य आयोजन किया जाएगा।

जहां भव्य पूजा के साथ-साथ भगवान भोलेनाथ का महाभिषेक किया जाएगा। पंडितों की मौजूदगी में मंत्रोच्यार होगा। दया सिंह ने बताया कि हर सोमवार को अलग-अलग अतिथियों और राजनेताओं की मौजूदगी में पूजा-अर्चना की जाएगी। जिसमें प्रदेशभर और जिलेभर के नेता शिरकत करेंगे। इसके अलावा साधु-संतों की मौजूदगी में महाभंडारा का आयोजन दया सिंह की ओर से उनकी समिति करेगी। पहले सोमवार को भाजपा पार्षद दल के सभी सदस्य इकट्‌ठा होकर पूजा-अर्चना की जाएगी।

12 अगस्त तक चलेगी पूजा-अर्चना…
सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित होता है ऐसे में सावन के महीने में आने वाले सोमवार का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में सावन सोमवार का व्रत रखा जाता है और इस दिन विधिवत रूप से भगवान शिव और माता पार्वती पूजा-आराधना की जाती है।

इस वर्ष सावन का महीना 14 जुलाई से आरंभ होकर 12 अगस्त तक चलेगा। सावन का पहला पहला सोमवार इस बार 18 जुलाई को पड़ रहा है। इस साल सावन का पवित्र महीना 29 दिनों तक चलेगा। जिसमें चार सोमवार व्रत पड़ेंगे। इन चार सोमवार में व्रत रखते हुए विशेष रूप से भगवान शिव की पूजा की जाएगी। सावन का पहला सोमवार 18 जुलाई को, सावन का दूसरा सोमवार 25 जुलाई को, तीसरा सावन सोमवार 01 अगस्त को पड़ेगा और अंतिम सावन सोमवार 08 अगस्त को पड़ेगा। भगवान शिव की पूजा सावन सोमवार के दिन करने पर मनुष्य की कुंडली में अशुभ ग्रहों का प्रभाव कम होगा और भोलेनाथ की विशेष कृपा हमेशा बनी रहेगी।

सावन सोमवार पूजा विधि
1. सावन सोमवार के दिन पानी में दूध व काला तिल डालकर शिवलिंग का अभिषेक करें।
2. सावन सोमवार का व्रत रखते हुए इस दिन 21 बिल्वपत्रों पर चंदन से ऊं नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं, इससे आपकी सभी मनोकामनाएं भोलेनाथ पूर्ण करेंगे।
3. यदि आपके विवाह में अड़चन आ रही है तो सावन सोमवार के दिन में रोज शिवलिंग पर केसर मिला हुआ दूध चढ़ाएं,इससे जल्दी ही आपके विवाह के योग बन सकते हैं।
4. सावन में रोज नंदी को हरा चारा खिलाएं, इससे कष्टों का निवारण होगा, जीवन में सुख-समृद्धि आएगी और मन प्रसन्न रहेगा।
5. श्रावण में गरीबों को भोजन कराएं, इससे आपके घर में कभी अन्न की कमी नहीं होगी तथा पितरों की आत्मा को शांति मिलेगी।
6. सावन सोमवार के दिन पूजा करते समय मंदिर में कुछ देर बैठकर मन ही मन में ऊं नम: शिवाय मंत्र का जाप करें।

 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक छत्तीसगढ़ रायपुर महोदय के निर्देशन में रायपुर पुलिस ने चलाया गुंडे बदमाशों और अड्डेबाजों के विरूद्ध विशेष अभियान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *