सबसे बुजुर्ग बाघ ‘राजा’ का हुआ निधन, 40 दिनों के बाद बनने वाला था वर्ल्ड रिकॉर्ड..

नई दिल्ली। भारत और दुनिया के सबसे बुजुर्ग बाघ राजा की आज सोमवार को मौत हो गई। एसकेबी रेस्क्यू सेंटर के अधिकारियों ने बताया कि राजा ने 26 साल की उम्र में अंतिम सांस ली। राजा बाघ को पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार के टाइगर पुनर्वास सेंटर में रखा गया था। अधिकारियों ने बताया कि राजा देश में सबसे लंबे समय तक जीवित रहने वाले बाघों में से एक था।

रॉयल बंगाल टाइगर राजा की उम्र 26 साल 10 महीने 18 दिन थी और वह 23 अगस्त को अपना 27वां जन्मदिन मनाने वाला था। लेकिन जन्मदिन से 40 दिन पहले उनसे दुनिया को अलविदा कह दिया। वन विभाग ने राजा के अगले जन्मदिन के लिए तैयारी भी कर ली थी। एसकेबी बचाव केंद्र के अनुसार बाघ राजा ने सोमवार को सुबह 3 बजे के करीब दम तोड़ा था। वन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि बुढ़ापे के कारण राजा पिछले कुछ दिनों से खाना नहीं खा रहा था।

राजा की मौत के बाद अलीपुरद्वार के जिलाधिकारी सुरेंद्र कुमार मीणा, वन निदेशालय के अधिकारी दीपक एम समेत वन विभाग के अधिकारियों ने रॉयल बंगाल टाइगर राजा को श्रद्धांजलि दी।

बता दें कि पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार जिले के जलदापारा का बाघ पुनर्वासन केंद्र में रखा गया था और अगले 23 अगस्त को उनका 27वां जन्म दिन धूमधाम से मनाया जाने वाला था और इसकी पूरी तैयारी कर ली गई थी,लेकिन उसके बाद ही दुनिया के सबसे बुजुर्ग बाघ ने दम तोड़ दिया।

 

 

CG NEWS : ट्रेनों में करता था गांजे की सप्लाई, RPF और GRP की टीम ने घेराबंदी कर तस्कर को रंगेहाथ

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *