छत्तीसगढ़ से मेघा तिवारी की रिपोर्ट

रायपुर बस्तर कोरापुट संघ की परचून ट्रांसपोर्टर्स के साथ खुली गुंडई..अध्यक्ष सोने सिद्धू गैरेजो(ट्रांसपोर्ट गोडाउन) के मालिको को कॉल कर के और उनके सदस्य गोडाउन जाकर उनके हिसाब से काम करने के दे रहा धमकी..दबंगई से परेशान व्यापारियों के सामने बड़ी मुसीबत,, परिवहन मंत्री ने दिया जल्द कार्रवाई का आश्वासन

============================

परचून ट्रांसपोर्टर्स के लिए मुसीबत बना रायपुर बस्तर कोरापुट संघ .

संघ का अध्यक्ष उनके सदस्य गैरेज में जाकर कर रहा खुली गुंडई,

अध्यक्ष सुखदेव सिंह उर्फ सोनू सिद्धू और उनके सदस्य व्यापारियों को धमकाते है,

गैरेज गोडाउन में धमकाने का वीडियो भी आया सामने।

सोनू ने व्यापारियों से कहा परचून व्यापार स्वतंत्र नही

व्यापारियों को उसके हिसाब से काम करने की दी धमकी

कहा-उसके नीचे रहकर ही व्यापारियों को करना होगा काम

गैरेज बंद करवाने और गाड़ियों को रास्ते में रुकवाने की भी देता है धमकी

सोनू सिद्धू की दबंगई से व्यापारी परेशान

व्यापार बंद करने की बन रही मजबूरी

ट्रांसपोर्टर्स ने चैंबर और परिवहन मंत्री से भी की शिकायत।

मंत्री ने किसी भी संघ के ऐसा करने को बताया गलत।

जल्द कानूनी कार्रवाई का दिया आश्वासन।

========================

खबर छत्तीसगढ़ से है जहां रायपुर बस्तर कोरापुट संघ के अध्यक्ष सुखदेव सिंह सिद्धू (सोनू सिद्धू) परचून ट्रांसपोर्टर को खुली धमकी दे रहे है ..सोनू सिद्धू और उनके संघ के सदस्य गोडाउन में जा के धमकी देने का वीडियो भी सामने आया है जिसमें ये कह रहा कि परचून व्यापार स्वतंत्र नही है, उसके हिसाब से बंदिशों में रायपुर बस्तर परचून ट्रांसपोर्टर्स को इनके नीचे रह के काम करना होगा,और इनके हिसाब से चलना होगा, सोनू व्यापारियों को गैरेज बंद करवा देने.. गाड़ियों को रास्ते में रुकवा देंने और जो बन पाए वो करने की धमकी देता है ..उसकी खुली गुंडई से व्यापारी बेहद परेशान है उनका कहना है की ऐसे में हम सब बस्तर परचून ट्रांसपोर्टर्स ये व्यापार नही कर पाएंगे, हमको हमारा व्यापार बंद करना होगा। जब इसकी शिकायत ट्रांसपोर्टर्स ने चैंबर और परिवहन मंत्री से की तो उनका कहना है की कोई भी व्यापार किसी भी संघ के अंतर्गत नही आता है.. व्यापार स्वतंत्र रूप से हर व्यक्ति कर सकता है,इसमें कोई भी संघ दखल नहीं कर सकता। और अगर इसपे कोई दखल देता है तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *