डॉक्टर राधाबाई कन्या महाविद्यालय में 7 से 14 सितंबर तक आयोजित हिंदी कार्यशाला का द्वितीय दिवस, छात्राओं ने अभिनय में दिखाया कौशल

रायपुर। मुंशी प्रेमचंद जयंती एवं हिंदी दिवस के उपलक्ष में डॉक्टर राधाबाई शासकीय नवीन कन्या महाविद्यालय की साहित्यिक समिति के द्वारा 7 सितंबर से 14 सितंबर तक आयोजित हिंदी कार्यशाला के आज द्वितीय दिवस में प्रसिद्ध कहानीकार जयशंकर प्रसाद की लिखी कहानी “पुरस्कार” की समीक्षा, अभिनय एवं प्रश्न पर प्रतिभागियों ने अपना कौशल दिखाया।

कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से की गई, कार्यशाला की संयोजक डॉ.गौरी अग्रवाल ने कहा कि जयशंकर प्रसाद की कहानियां अधिकतर देश प्रेम पर आधारित है। पुरस्कार कहानी प्रेम की उदारता और कर्तव्य की महानता की अद्भुत मिसाल है। कहानी की प्रमुख पात्र कृषक बालिका मधुलिका अपनी जन्म भूमि की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व बलिदान कर देती है. आज जब पूरे भारत में आजादी की 75वी सालगिरह को आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जा रहा है तब इस संदर्भ में यह कहानी और भी बेजोड़ और प्रासंगिक है।

इस मौके पर डॉक्टर ज्योति मिश्रा ने कहा कि देश प्रेम ही सर्वोपरि है. कार्यशाला में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के नाम इस प्रकार हैं ईशा साहू,अंजली फरेन्द्र, ज्योति पांडे, सारणी साहू, पूजा सिंहा, तारिणी साहू मुख्य पात्र रोशनी साहू( मधुलिका), आरती साहू (अरुण), बेबिका साहू( महाराज), सिद्धि राजपूत, ढलेश्वरी वर्मा

 

 

धरसीवां ब्लाक के पथरी हायर सेकेण्डरी स्कूल में स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव बडे धुमधाम से मनाया गया साहित्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *