एटीएम से पैसा निकाल कर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के तीन लोग गिरफ्तार

काशीपुर: बीते दिनों रेलवे कॉलोनी निवासी राजेश और मोहल्ला काजी बाग निवासी अंकित ने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी की उनके एटीएम से किसी अज्ञात व्यक्ति ने ₹21000 और ₹75000 अलग-अलग बैंकों से निकाल लिए । वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने घटना को गंभीरता से लेते हुए एक टीम का गठन करने के निर्देश दिए और संदिग्ध व्यक्तियों पर पैनी नजर रखने के निर्देश दिए। इसी को लेकर पुलिस सतर्क हो गई और पुलिस टीम बैंकों के इर्द-गिर्द घूमने लगी। इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली की एक काले रंग की बिना नंबर की कार घूम रही है। पुलिस ने जैसे ही काले रंग की कार को देखा तुरंत पुलिस ने उसे रोककर उसमें सवार 3 लोगों को धर दबोचा। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम रोहित कुमार निवासी गौतम बुधनगर, नाजिम निवासी शाहबाजपुर भवानीपुर थाना संभल ,और तीसरे व्यक्ति ने अपना नाम मनीष कुमार बताया। उन्होंने यह भी बताया कि एक उनका चौथा साथी चंद्रशेखर निवासी छजारसी कॉलोनी गौतम बुधनगर अभी फरार है । आज जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ टीसी ने कोतवाली परिसर में घटना का खुलासा करते हुए बताया की यह शातिर किस्म के लोग कस्टमर के आने से पहले ही एटीएम की जगह फेवीक्विक लगा देते हैं, जिससे कस्टमर का एटीएम फस जाता है और यह लोग उसको बेवकूफ बनाकर उसका पिन नंबर पूछ लेते हैं और कस्टमर के जाने के बाद पलास की सहायता से एटीएम निकालकर दोबारा एटीएम डालकर उनका पैसा निकाल लेते हैं। आज अंतरराज्य गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने इनके पास से स्वैप मशीन, पेटीएम मशीन, 1 पलास, फेवीक्विक के पैकेट और एक काले रंग की एक्सयूवी कार बरामद करते हुए 46 ,300 रुपए नगद बरामद किए हैं। पुलिस ने टीम के 3 कांस्टेबलों की पीठ थपथपाते हुए उन्हें ₹10000 रुपए पुरस्कार देने की घोषणा भी की है । उन्होंने आम जनता से अपील की है कि वह अपना एटीएम का पिन नंबर किसी को ना दें और संदिग्ध व्यक्तियों के विषय में पुलिस को सूचित करें।

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज कार्तिक पुन्नी के अवसर पर प्रातः रायपुर के महादेव घाट पहुंचकर खारून नदी में कार्तिक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *