CG Crime : युवक-युवती कर रहे थे ड्रग की सप्लाई, एयरपोर्ट से गिरफ्तार…

रायपुर। CG Crime एनसीबी की टीम ने राजधानी रायपुर के एयरपोर्ट में मादक पदार्थ मैथाफेटामाइन के साथ महिला सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एनसीबी की टीम ने दोनों के पास से कुछ 3 ग्राम मादक पदार्थ और अल्टो कार जब्त किया है। वहीं दोनों आरोपी को देवेन्द्र नगर पुलिस के हवाले कर दिया।

बता दें कि सुनील कुमार वर्मा एनसीबी इंदौर में आसूचना अधिकारी के पद पर कार्यरत है। बताया जाता है कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो, इंदौर के क्षेत्राधिकार के अंतर्गत रायपुर छत्तीसगढ क्षेत्र में सी- 54 सेक्टर 05 देवेन्द्र नगर, कृषि उपज मण्डी के पास जिला रायपुर स्थित श्री मारूति कोरियर कंपनी के लिगल हेड राम यादव द्वारा एक मेल क्षेत्रीय निर्देशक एनसीबी इंदौर की मेल आईडी पर प्राप्त हुआ जिसमें मारूति कोरियर के रायपुर स्थित शाखा में एक पार्सल में संदिग्ध ड्रग होने की संभावना की सूचना प्रदाय की गई।

जिस पर एनसीबी, इंदौर के सुनील कुमार वर्मा आसूचना अधिकारी के नेतृत्व में उनकी 4 सदस्यीय टीम रायपुर आकर उक्त सूचना से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल को अवगत कराया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना प्रभारी देवेन्द्र नगर को एनसीबी, इंदौर टीम के साथ मिलकर आश्यक कार्यवाही करने निर्देशित किया गया। जिस पर थाना देवेन्द्र नगर, ए.सी.सी.यू. एवं एनसीबी इंदौर की संयुक्त टीम द्वारा श्रीमारूति कोरियर कंपनी के सी 54 सेक्टर 05 देवेन्द्र नगर कृषि उपज मंडी रायपुर स्थित शाखा में मैनेजर प्रमोद कुमार पटेल से उक्त संबंध में पूछताछ करने पर उनके द्वारा एक संदिग्ध पार्सल दिखाया गया, जिसे खोलकर देखने पर उसमें एक टी-शर्ट के अंदर एक खाकी रंग के गत्ते के पर 4 पारदर्शी पॉलीथीन टेप के माध्यम से चिपकाई गई थी

जिसमें सफेद क्रिस्टल नुमा पदार्थ होना पाया गया। संदिग्ध पार्सल में रखें संदिग्ध पदार्थ की एनसीबी इंदौर की टीम के पास उपलब्ध ड्रग डिटेक्शन किट के माध्यम से प्रारंभिक जांच की गई जिसमें संदिग्ध मादक पदार्थ के प्रथम दृष्टया अवैध मैथाफेटामाईन ड्रग होना पाया गया।

जिस पर संयुक्त टीम के सदस्यों द्वारा पार्सल के जमाकर्ता एवं प्राप्तकर्ता के संबंध में जानकारी संग्रहित करने पर पार्सल जिसमें अवैध पादक पदार्थ मैथाफेटामाईन को छिपाकर रखा गया था को दीप्ति रानी भारद्वाज निवासी पाली कोरबा को जमाकर्ता तथा संदिग्ध पार्सल को संदीप कुमार चंद्राकर निवासी महामाया चौक महासमुंद को प्राप्तकर्ता के रूप में पाया गया।  जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा दोनांे की पतासाजी करना प्रारंभ करते हुए आरोपी दीप्ति रानी भारद्वाज एवं संदीप कुमार चंद्राकर को माना एयरपोर्ट में पकड़ा गया।

पूछताछ करने पर संदीप चन्द्राकर द्वारा बताया गया कि ड्रग को उसके दोस्त मानस निवासी दिल्ली द्वारा उसे दिया गया था, जिसे दीप्ति रानी भारद्वाज द्वारा मारूति कोरियर रायपुर में संदीप के नाम से कोरियर किया गया था। जिसे आरेापियान गोवा में प्राप्त कर लेते। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 3 ग्राम मैथाफेटामाईन ड्रग तथा घटना से संबंधित अल्टो कार क्रमांक सीजी 15 डीडी 5783 जब्त कर आरोपियों के खिलाफ धारा 22, 8 नारकोटिक्स एक्ट का के तहत कार्रवाई की है।

 

लक्ष्मी नारायण वार्ड -44 भिलाई नगर निगम मे बच्चों को मिठाई खिलाकर बाल दिवस के अवसर पर भारत के भविष्य के कर्णधारों को शुभकामनायें दी..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *