सरोगेसी का मतलब होता है कि अपनी पत्नी के अलावा किसी दूसरी महिला के कोख में बच्चे को पालना. जो कपल पैरेंट बनना चाहते हैं लेकिन वह बच्चा पैदा नहीं करना चाहते वह ऐसा करते हैं. इसमें पुरुष के स्पर्म उस महिला के कोख में प्रितरोपित करते हैं जिसकी कोख किराए पर ली जाती है. इसके बाद वह महिला प्रेग्नेंट होती है और बच्चे को जन्म देती है. इसे ट्रेडिशनल सरोगेसी कहते हैं. दूसरे तरह की सरोगेसी को जेस्टेशनल सरोगेसी कहते हैं. इसमें बच्चे की चाह रखने वाले पुरुष के स्पर्म और बच्चे की चाह रखने वाली मां के अंडे का मेल टेस्ट ट्यूब में कराने के बाद सरोगेट मदर या उस महिला के यूट्रस में प्रत्यारोपित किया जाता है जिसकी कोख किराए पर ली गई है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.