रांची: झारखंड में नक्सली निरंतर अपनी मौजूदगी दर्ज करा रहे हैं। ताजा मामला पश्चिमी सिंहभूम के गोइलकेरा थाना इलाके का है। गितिलपी में मंगलवार रात लगभग 10 बजे हथियारों से लैस 20-25 नक्सलियों ने घर से शख्स को अगवा किया तथा दोबारा उसे गोली मार दी। शख्स की मौके पर ही मौत हो गई, जिसके पश्चात् उसका शव गोइलकेरा-चाईबासा मुख्य रास्ते पर रात भर पड़ा रहा।

घटना से रहवासियों में दहशत का माहौल है। तहरीर प्राप्त होने पर के पश्चात् पुलिस मौके पर पहुंची तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए चक्रधरपुर भेज दिया गया।

खबर के अनुसार, प्रेम सुरीन परिवार के साथ जन्मदिन मनाने के लिए मंगलवार को गांव में आया था। वो लगभग 40-50 रहवासियों के साथ घर में जन्मदिन मना रहा था, इसी बीच रात लगभग 10 बजे 20-25 नक्सली पहुंचे। इनमें से कुछ नक्सली घर में घुसे तथा हथियारों के बल पर औरतों को एक कमरे में बंद कर बाहर से कुंडी लगा दी।

वही इसी के चलते नक्सली जन्मदिन पार्टी से प्रेम सुरीन सहित 5 व्यक्तियों को घर के बाहर ले गए। प्रेम सुरीन को छोड़कर सभी को नक्सलियों ने रस्सी से बांध दिया। तत्पश्चात, नक्सली प्रेम सुरीन को घर 200 मीटर दूर गोइलकेरा- चाईबासा मुख्य सड़क पर लेकर गए तथा गोली मार दी, जिससे उसकी अवसर पर मौत हो गई।

प्रेम सुरीन गोइलकेरा से कुइड़ा होते हुए चाईबासा जाने वाली बस में क्लीनर का काम करता था। बता दें कि, गोइलकेरा थाना इलाके के छोटा कुइड़ा सहित गितिलपी से नरसंडा तक पहले नक्सलियों का वर्चस्व था। पुलिस तथा सुरक्षाबलों के निरंतर अभियान चलाने से नक्सलियों का वर्चस्व घटा है। गांव के व्यक्तियों का सपोर्ट भी नक्सलियों को नहीं मिल रहा है। कहा जा रहा है कि बौखलाहट में नक्सलियों ने इस प्रकार की वारदात को अंजाम दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.