उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) का पेपर लीक (Paper Leak) हो…

नौसेना में शामिल हुई चौथी स्कॉर्पीन क्लास सबमरीन वेला, वॉर पावर को मिलेगा बढ़ावा

सरगुजा के विदेशी मदिरा दुकान में मिलावटी शराब पकड़ाई,दुकान में मिली खाली बोतल ढक्कन और पैकेजिंग सामग्री को किया जप्त,कर्मचारियों को सेवा से पृथक करने की कार्रवाई

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET) का पेपर लीक (Paper Leak) होने पर कड़ा रुख अपनाया है. इस दौरान सीएम योगी ने अधिकारियों को साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि पेपर लीक करने वालों पर गैंगस्टर एक्ट (Gangster ACT) के अंतर्गत कार्रवाई करें. इसके साथ ही सीएम ने कहा कि कैंडिडेट्स को कोई परेशानी होनी चाहिए. इनके आने जाने का इंतजाम सरकार करेगी. वहीं, अगले 1 महीने के भीतर दोबारा परीक्षा करने की तैयारी करें. हालांकि परीक्षार्थियों से अब दोबारा फीस नहीं ली जाएगी.

 

 

 

दरअसल, रविवार सुबह शिक्षक बनने के लिए अनिवार्य UPTET परीक्षा 28 नवंबर को केंद्रों पर सुबह 10:00 बजे शुरू हुई. परीक्षा जैसे ही केन्द्र पर शुरू हुई अगले 20 मिनट बाद केन्द्र व्यवस्थापक तहसीलदार ने सभी कमरों में परीक्षा निरस्त होने की सूचना दी. वहीं, निरस्त की सूचना मिलने से परीक्षा देने आए सभी परीक्षार्थी मायूस होकर केंद्र से बाहर निकलने लगे. ऐसे में परीक्षा निरस्त होने के बाद कालेज के मुख्य गेट पर पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर रखी थी. केन्द्र से निकलने वाले सभी परीक्षार्थी को बारी बारी से गेट से बाहर भेजा गया.

 

 

 

पेपर लीक मामले में 23 लोग हुए गिरफ्तार

 

बता दें कि TET के पेपर को लीक होने की आशंका में रद्द कर दिया गया. वहीं, एडीजी लॉ एंड आर्डर ने बताया है कि पेपर लीक होने की वजह से टीईटी परीक्षा को स्थगित किया जा रहा है. टीईटी पर्चा लीक में एसटीएफ ने कई आरोपियों को पकड़ लिया है और कारवाई चल रही है. प्रशांत कुमार ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में अबतक 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इसमें 13 प्रयागराज से पकड़े गए हैं. हालांकि उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) 1 महीने के अंदर ही UPTET परीक्षा का आयोजन करवाएगी.

 

 

 

UPTET परीक्षार्थियों से परिवहन में नहीं लिए जाएंगे कोई पैसे

 

गौरतलब है कि इस दौरान UPTET परीक्षा देने आए परीक्षार्थियों से परिवहन में कोई पैसे नहीं लिए जाएंगे. वहीं प्रशासन का कहना है कि जल्द ही परीक्षा की नई तारीखों का ऐलान किया जाएगा. वहीं एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि एसटीएफ न पूरे मामले की जांच कर रही है जो लोग पकड़े गए हैं उसमें कुछ लोग बिहार से हैं, फिलहाल पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.