*नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने परिवार के साथ किया भिलाई में महाभिषेक: प्रदेश में अच्छी बारिश के लिए भी की कामना, दया के एक निमंत्रण पर इस बार भी पहुंचे कौशिक*

*- पावर हाउस स्थित राजराजेश्वरी मंदिर में धरमलाल कौशिक ने की पूजा-अर्चना*


*भिलाई।* सावन के तीसरे सोमवार को छत्तीसगढ़ शासन के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक अपनी पत्नी सुरुज कौशिक और बेटे डॉ. देवेंद्र कौशिक के साथ पूजा-अर्चना करने राजराजेश्वरी मंदिर पहुंचे। बोल बम समिति के अध्यक्ष दया सिंह के एक निमंत्रण पर भिलाई पहुंचे धरमलाल कौशिक ने परिवार के साथ रूद्राभिषेक किया।

101 किलो दूध और पंचामृत के साथ यह अभिषेक किया गया। रूद्राभिषेक के बाद छत्तीसगढ़ में अच्छी बारिश के लिए भगवान वरूण देव से भी कामना की। चूंकि, प्रदेश में सूखा जैसी स्थिति है। यज्ञ में अच्छी बारिश के लिए भी आहुति दी गई।

महाभिषेक के साथ विशेष पूजा कार्यक्रम में धरमलाल कौशिक के साथ समिति के अध्यक्ष दया सिंह भी बैठे। पत्रकारों से बात करते हुए नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा, प्रदेश में सूखे की स्थिति है। इसके लिए सरकार को पत्र लिखा है। कई इलाकों को सूखा घोषित कर राहत देना चाहिए। उन्होंने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि, देश की मोदी सरकार किसानों के लिए बेहतर काम कर रही है। प्रदेश की सरकार सिर्फ वाहवाही लूट रही है। छत्तीसगढ़ में किसान त्रस्त हैं।

*नेता प्रतिपक्ष ने की समिति की तारीफ*
रूद्रा महाभिषेक करने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने समिति के अध्यक्ष दया सिंह की तारीफ करते हुवे कहा, ऐसे आयोजन के लिए दया और उनकी टीम बधाई के पात्र है। भोले की कृपा हम सब पर बनी रहे। इस कार्यक्रम में पार्षद रिकेश सेन,वीणा चंद्राकर, सरिता बघेल, संजय सिंह, गिरजा बंछोर, लक्ष्मी साहू ,ईश्वरी नेताम, शकुंतला साहूके साथ बोल बम सिमिति से बिजेंद्र मिश्रा, राकेश प्रसाद, कामदेव कर्मकार, दिलीप शर्मा, रॉकी साहू, तुशांत वर्मा, प्रकाश सिंह, रवि सिंह राजपूत, देवेंद्र यादव, प्रशांत कुमार, हेमनारायण सिंह, गौरव गोड़घाटे, विनोद गुप्ता, नंदू गुप्ता समेत अन्य सैकड़ों शिव भक्त मौजूद रहे।

*कान्हा महाराज संग पंडितों ने कराई पूजा-अर्चना*
मंदिर में कान्हा महाराज के नेतृत्व में पंडितों ने पूजा-अर्चना कराई। रूद्रा महाभिषेक के साथ-साथ वरूण देव का यज्ञ पूरी विधि विधान से संपन्न कराया। वहीं एक-एक पाव के 300 लड्‌डू का भोग भोले बाबा को कराया गया। इस दौरान महाभोग कराया गया। पूजा-अर्चना के बाद प्रसादी का वितरण किया गया।

 

 

भारत के केंद्रीय रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव

Leave a Reply

Your email address will not be published.