कपड़े पर GST दर बढ़ाने का फैसला वापिस लेने पर केन्द्रीय वित्तमंत्री सीतारमण ल का चेम्बर ने किया धन्यवाद

 

रायपुर,31 दिसंबर 2021। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी, महामंत्री अजय भसीन, कोषाध्यक्ष उत्तम गोलछा, कार्यकारी अध्यक्ष- राजेन्द्र जग्गी ,विक्रम सिंहदेव, राम मंधान, मनमोहन अग्रवाल ने बताया कि आज दिल्ली में हुई जीएसटी कौंसिल की मीटिंग में कपड़ा पर 1 जनवरी 2022 से 5ः के स्थान पर 12ःजीएसटी लगाने के निर्णय को वापिस लिया, इस निर्णय का छत्तीसगढ़ चेम्बर ने स्वागत करते हुए केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण एवं कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भरतिया सहित महासचिव प्रवीण खंडेलवाल का आभार व्यक्त किया।

 

चेम्बर प्रदेश अध्यक्ष श्री अमर पारवानी ने इस निर्णय का प्रदेश भर के व्यापारियों की और से स्वागत करते हुए कहा कि इससे देश के लाखों कपड़ा एवं फुटवियर व्यापारियों को राहत मिलेगी जो पिछले एक महीने से ज्यादा समय से बेहद तनाव की जिंदगी जी रहे थे। श्री पारवानी ने यह भी कहा कि कपड़े की तरह फुटवियर पर भी जीएसटी दर बढ़ाने के निर्णय को स्थगित करना भी आवश्यक है।

 

श्री पारवानी ने केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से अनुरोध किया था कि मूल्य पर किसी भी सीमा और श्रेणी के बिना 5ः की दर से एकल दर पेश की जाए और इस प्रकार जारी अधिसूचना को जिसमें टैक्स की दर को 5ः से बढ़ाकर 12ः कर दिया गया है, कृपया इसे तत्काल वापस लिया जाए। सरकार के इस कदम से न सिर्फ अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी, बल्कि उम्मीद और निश्चितता का माहौल बनेगा।

 

श्री पारवानी ने कहा कि जीएसटी को लागू हुए चार साल से अधिक हो गए हैं और अभी तक जीएसटी एक स्थिर कर प्रणाली नहीं बन पाई है । जीएसटी का पोर्टल भी सही तरीके से काम नहीं कर रहा है । उम्मीदों के विपरीत जीएसटी कर प्रणाली में बेहद विसंगतियों के कारण यह बहुत ही जटिल कर प्रणाली बन गई है ।

 

चेम्बर ने पूर्व में केंद्र सरकार एवं जीएसटी कौंसिल से पूरी जीएसटी कर प्रणाली पर नए सिरे से विचार कर इसे एक बेहद सरल कर प्रणाली बनाये जाने की मांग की थी जिसके अंतर्गत देश भर में ज्यादा से ज्यादा व्यापारी जीएसटी के अंतर्गत पंजीकरण कर व्यापार करें तथा सरकारों का राजस्व भी बढे़।

Leave a Reply

Your email address will not be published.