तेलीबांधा थाने की घटना है सौरभ मिश्रा व्यक्त नाम मत पर चाकू से हमला हुआ है पर पुलिस राजनीतिक दबाव में सारे धाराओं ही बदल दी है और हम लगातार यह बोल रहे हैं छत्तीसगढ़ पुलिस भारतीय संविधान से नहीं नेताओं के बंगले से कंट्रोल होती है इसका जीता जागता उदाहरण तेलीबांधा थाने की घटना

हम सब को एक साथ होकर उचित कार्रवाई की मांग करनी चाहिए और करनी होगी 🙏🏾🙏🏾🙏🏾

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.