रायपुर। देशभर में राजधानी रायपुर में हुए धर्म संसद के दौरान कालीचरण महाराज की टिपण्णी से उठा सियासी घमासान और बढ़ता ही जा रहा है। अब इस मामलें में सूबे के कद्दावर नेता बृजमोहन अग्रवाल ने सीएम भूपेश बघेल पर पलटवार कर दिया है। मीडिया से चर्चा करते हुए भाजपा वरिष्ठ नेता और रायपुर दक्षिण से विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि “पहली बात तो मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उनके पिता प्रभु श्री राम के खिलाफ लगातार बोलते हैं, ब्राह्मणों के खिलाफ बोलते हैं, धर्म के खिलाफ बोलते हैं, तब तो उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं आती है।

 

ऐसे में मुख्यमंत्री जी को इस मामले में कुछ भी बोलने का कुछ अधिकार ही नहीं है, जब की उनके पिता प्रभु श्री राम को जो सब के आदर्श है, उनके खिलाफ बोलने पर कोई कार्यवाही नहीं की जाती, तो उन्हें यहां भी अधिकार नहीं कि वह इस मामले में कुछ बोले।”

 

कालीचरण महाराज की टिपण्णी अनुचित

इधर विधायक बृजमोहन अग्रवाल से जब मीडिया ने कालीचरण महाराज के बयान को लेकर सवाल किया तो उन्होंने तत्काल उनके बयान को अनुचित करार दिया है।

 

बृजमोहन कहा कि “महात्मा गांधी इस देश के आदर्श है, इस देश के महापुरुष है, उनके विरोध में ऐसा बोलना कतई उचित नहीं है। बयान पर आपत्ति है।”

 

गौरतलब है कि इस मामलें में सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि “क़ानून से बढ़कर कोई भी नहीं है, समाज में अगर कोई जहर घोलने की कोशिश करेंगे तो उसके खिलाफ पूरी सख्ती के साथ कार्रवाई होगी। कालीचरण महाराज के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है।”

 

भैयाजी ये भी देखे : एकलव्य विद्यालयों की खेल प्रतियोगिता का आगाज़, छात्र दिखाएंगे अपना कौशल

आगे सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि “यह धरती शांति का है, प्रेम का है, भाईचारे का है, गुरु घासीदास की धरती है। यहाँ इस तरह की उत्तेजक बातें अहिंसात्मक बातें बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। राष्ट्रपिता के बारे में इस तरह की बातें कहीं जाना निश्चित रूप से यह दर्शाता है कि उनकी मानसिक स्थिति क्या है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.